GLOBALSNGHOSPITAL
919174400555
> Updates > मेनिस्कस टियर के बारे में सम्पूर्ण जानकारी:मेनिस्कस एनाटोमी:मेनिस्कस “वेज आकार” की कुशन डिस्क की तरह हैं (मुख्य रूप से कोलेजनटाइप 1 की बनी हुई) जो जांघ और पैर की हड्डियों के बीच उपस्थित होती है । प्रत्येक घुटने के जोड़ में दो मेनिस्कस होते हैं, बाहरी (लेटरल) और आंतरिक (मीडियल) । ये मेनिस्कस मुख्य रूप से साइनोविअल तरल पदार्थ (तरल पदार्थ जो घुटने के जोड़ में मौजूद है) से अपना पोषण प्राप्त करते हैं। एक मेनिस्कस के 3 मुख्य हिस्से होते है- एक पोस्टीरियर हॉर्न, एक बॉडी, और एक एंटीरियर हॉर्न। आंतरिक मिनिस्कस बाहरी मिनिस्कस की तुलना में अंडाकार और आकार में बड़ा होता है। बाहरी मेनिस्कस आकार में अधिक गोलाकार होता है और इसमें सतह क्षेत्र अधिक होता है।मेनिस्कस क्यों महत्वपूर्ण हैं:मेनिस्कस लचीली संरचनाएं हैं और वे घुटने के जोड़ में “शॉक अब्सॉर्बर” के रूप में कार्य करते हैं और जॉइंट कार्टिलेज ( जांघ और पैर की हड्डियों के सिरो की चिकनी सतह जो चलने मैं मदद करती है) की रक्षा करते हैं। वे जांघ की हड्डी को पैर की हड्डी में फिट रखने में भी महत्वपूर्ण हैं। मेनिस्कस जोड़ो का सामंजस्य बनाए रखने में मदद करता है और पैर की हड्डी (tibia) और जांघ की हड्डी (femur) के बीच संपर्क क्षेत्र को अधिकतम बनाये रखता है।मेनिस्कस के फटने का क्या कारण होता है?युवा रोगियों में मेनिस्कस टियर ज्यादातर घुटने के जोड़ों में घुमावदार (twisting) चोट के कारण होता है। वृद्ध व्यक्तियों में ये ज्यादातर उम्र से संबंधित परिवर्तनों (degenerative changes) के कारण होते हैं। असामान्य आकार (डिस्कोइड मेनिस्कस) या मेनिस्कल सिस्ट जैसे मेनिस्कस की असामान्यताएं भी मेनिस्कस के चोटिल होने की सम्भावना बढ़ा देती है हैं। आंतरिक मेनिस्कस बाहरी से कम मोबाइल है इसलिए आंतरिक मेनिस्कस का टियर अधिक आम है।क्या सभी मेनिस्कस टियर की मरम्मत की जा सकती है?मेनिस्कयस की केवल परिधीय 10-25% चौड़ाई में रक्त की आपूर्ति होती है। यह बाहरी या परिधीय क्षेत्र “ रेड-रेड ज़ोन ” के रूप में जाना जाता है। मेनिस्कस की आंतरिक एक तिहाई चौड़ाई में कोई रक्त वाहिकाएं नहीं होती। इसे “वाइट-वाइट ज़ोन” के रूप में जाना जाता है। इन दो ज़ोनो (रेड-वाइट ज़ोन) के बीच में कुछ रक्त वाहिकाएं मौजूद हो सकती हैं। “ रेड-रेड ज़ोन ” के टियर, और रेड-वाइट ज़ोन के कुछ टियर उपचार की क्षमता रखते हैं और इनकी मरम्मत की जा सकती है। अधिकतर टियर “वाइट-वाइट ज़ोन” में मौजूद हैं और मरम्मत नहीं की जा सकती है। वाइट-वाइट ज़ोन के सभी टियर और रेड-वाइट टियर के अधिकांश टियर्स में मेनिस्कस के टुटे हुए पार्ट को हटाने की आवश्यकता होती है।संकेत और लक्षण:दर्द और बार बार सूजन का आना आम लक्षण हैं। अक्सर मिनिस्कस का टूटा हुआ टुकड़ा घुटने के मोड़ने जोड़ मैं फँसने पर एक क्लिकिंग ध्वनि और दर्द देता है। ऐसा सीढ़ियों पर चढ़ने या उतरते समय या उकडूं बैठतें समय हो सकता है। कभी-कभी, टूटा हुआ हिस्सा पैर और जांघ की हड्डियों के बीच फंस जाता है और पैर को को सीधा होने से रोक सकता है। इस स्थिति को घुटने का लॉक होना कहते हैं । एक लॉक्ड घुटने को तुरंत डॉक्टर द्वारा सही करने की आवश्यकता हो सकती है।मेनिस्कल टियर का इलाज कैसे किआ जाता है ?मेनिस्कल टियर का निदान की पुष्टि (डाइग्नोसिस) क्लीनिकल परीक्षण एवं एम्आरआई से की जाती है । नए टियर, बड़े टियर और बाहरी रेड रेड ज़ोन के टियर की मरम्म्मत की जा सकती है । मेनिस्कल की मरम्मत में टूटे हुए भागों को टांके लगाकर साथ जोड़ दिया जाता है । पुराने टियर, अंदर के वाइट-वाइट ज़ोन के टियर , डिजेनरेटिव टियर और जटिल टियर मे आमतौर पर टुटे हुए हिस्से को काट कर हटा दिया जाता हैं । सभी मेनिस्कल सर्जरी की-होल सर्जरी होती है एवं आर्थोस्कोप (दूरबीन) की मदद से की जाती है ।Best ACL Surgeon in Indore India | Best Ligament Doctor in Indore India | Best Arthroscopy Surgeon in Indore India | Best Meniscus Surgeon in Indore India | Best Knee Surgeon in Indore India | Best Knee Replacement Surgeon Indore India
2019-10-21T08:48:57
treatments